Sandeep Maheshwari Speech : हम सभी के साथ अक्सर ऐसा होता है कि चाहते कुछ और है, करते कुछ और। जिस दिन यह जान जाएं कि असल में करना क्या चाहते है, उसका आनंद एंव संतोष ही कुछ और होगा। आम युवा इस वात लेकर दुविधा में रहते है कि आखिर वे करना क्या चाहते