Rules of Life in Hindi : सुखी जीवन के पांच नियम

Rules of Life in Hindi जिस व्यक्ति ने पेंसिल का आविष्कार किया उसने पेंसिल को पैकेट में बंद करने से पहले पेंसिल से कहामैं तुम्हें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कार्य करने के लिए भेज रहा हूंउसके लिए तुम्हें नियम अपनाने होंगे।

Rules of Life in Hindi

 Rules of Life in Hindi

1 – तुम दुनिया में सबसे श्रेष्ठ कहलाओगीलेकिन उसके लिए तुम्हें दूसरे के हाथों में खुद को विश्वास से सोंपना होगा।
2 – तुम्हारी समयसमय पर छिलाई होगीजिससे तुम्हें काफी पीड़ा महसूस होगी लेकिन वह छिलाई के बाद ही तुम्हारी गुणवत्ता सामने आएगी।
3 – तुम स्वयं के द्वारा की गई गलतियों को सुधारने की योग्यता रखना।
4 – तुम्हारा सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा तुम्हारे अंदर रहेगाये याद रखना।
5 – तुम जिस सतह पर भी चलोअपने निशान छोड़ देना चाहे परिस्थितियां जो भी होतुम्हें लिखना है।
 
यह सब नियम पेंसिल ने मानने का वादा किया। अब आप पेंसिल की जगह स्वयं को रखो और यह नियम अपने जीवन में लागू करो।
नियम 1 – तुम्हें संसार में बहुत से कार्य करने हैं इसके लिए आपको ईश्वर पर विश्वास रखना होगा और दूसरे लोगों को अपने गुणों से प्रभावित करना होगादूसरों की सेवा में खुद को सोंपना होगा।
नियम 2 – तुम्हें भी पेंसिल की तरह समयसमय पर विशेष परिस्थितियों से गुजरना पड़ेगातुम्हें दृढ़ और मजबूत बनकर परिस्थितियों का सामना करना होगा।
नियम 3 – तुमने जो भी गलतियां की हैं उन्हें स्वीकारो और सुधारो।
नियम 4 – तुम्हारा सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा तुम्हारे अंदर है – तुम्हारा चरित्र
नियम 5 – आप जिस माहौल में भी जिंदगी जियो जहां भी जियो अपनी पहचान छोड़ जाओअपनी जिम्मेदारी को पूरी शिद्दत से निभाओ।
एक छोटी सी पेंसिल की कहानी में ही हमारे जीवन का रहस्य छिपा है इन नियमों को आप अपने जीवन में लागू करे।

Rules of Life in Hindi : आप में बदलाव के लिए लंबे चौड़े शास्त्रों की जरूरत नहीं हैकब एक छोटी सी बात आपके दिल को छू जाएआपको पता भी नहीं चलेगा।

Also Need to Read ‍‍‍~

Read : Success Definition : आखिर क्या है सफलता…..?

Read : Motivational Story in Hindi | रुला देने बाली कहानी

Read : Inspirational Stories in Hindi : ज़िंदगी के तीन उसूल

Read : डॉ उज्जवल पाटनी के ये विचार आपको सफल बनायेंगे

4 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *