IAS Mains में Ethics Paper का अध्ययन कैसे करें?

Ethics in Hindi

IAS Mains में Ethics Paper की शुरुआत के बाद IAS Aspirant एक दुविधा में रहते हैं,  क्योंकि Ethics स्कूल या कॉलेज में सिखाया जाने वाला कोई विषय नहीं है। यह विषय हमारी सत्य निष्ठा एवं अभिरुचि की परख करता है, अगर हम इसको अच्छे से तैयार करें तो यह Ethics Paper हमें अच्छा Score दिला सकता है। आईए जानते है How to Prepare Ethics for UPSC, how to Prepare Ethics for IAS, Ethics in Hindi

Ethics एक विषय के रूप में : Ethics in Hindi

ईमानदारी, सत्यनिष्ठा, नैतिकता और संवेदना जैसे गुण कहीं से विकसित नहीं किए जा सकते और न ही आपको कोई जबरदस्ती ये सिखा सकता है, यह गुण तो Self Motivation (स्वप्रेरणा) से आते हैं।

UPSC का Ethics Paper करने का मुख्य उद्देश्य आपके गुणों को परखना हैं, फिर हमारे मन में यह सवाल आता है कि इस पेपर की तैयारी के लिए कौन सी किताब पढ़ी जाए और क्या रणनीति अपनाई जाए।

Ethics Paper में Aspirant के दृष्टिकोण और अखंडता से संबंधित समस्याओं को सुलझाने के लिए आपकी राय ली जाती है, कि किसी सामाजिक समस्या का निवारण आप किस तरह करते हैं। इन पहलुओं को अच्छे से समझने के लिए Case Study का उपयोग करें।

Ethics Paper की तैयारी कैसे करें : Ethics in Hindi

सिविल सेवा मुख्य परीक्षा पेपर 4 में दो खंड होते हैं पहला खंड “क” होता है खंड “क”  में निम्न टॉपिक होते हैं –

  • नैतिकता
  • सत्यनिष्ठा
  • ईमानदारी
  • लोक प्रशासन में पारदर्शिता
  • सिविल सेवकों की जवाबदेही
  • महापुरुषों के नैतिक विचार
  • महापुरुषों के जीवन आदर्श
  • भावनात्मक समझ
  • शासन व्यवस्था मे ईमानदारी

निम्नलिखित मुद्दों पर प्रश्न पूछे जाएंगे। इस खंड से लगभग 13 से 15 प्रश्न पूछे जाते हैं,  जिन्हें आप प्रत्येक प्रश्न को अधिकतम 150 शब्दों में लिख सकते हैं।

खंड “ख” :- दूसरा खंड Case Study का होता है, इसमें सामाजिक समस्याओं से जुड़े प्रश्न पूछे जाते हैं। इस खण्ड में परिक्षक आपसे किसी भी समस्या का क्या निर्णय लेते हैं, इसे आपको 250 शब्दोंं में लिखना होगा।

Ethics Paper के लिए कोई ऐसी किताब नहीं बनी है, जिसे पढ़कर आप महारथ हासिल कर सकें। इस पेपर की तैयारी के लिए दैनिक जीवन में घटित घटनाओं को नजरअंदाज ना करें और आप एक सिविल अधिकारी के रूप मेंं जनता की समस्या का समाधान ढूढने की कोशिश करे।

कुछ वर्षों के प्रश्न पत्र उठा कर देख लें तो यह स्पष्ट हो जाएगा कि रटने से इस पेपर में कोई फायदा नहीं होने वाला है। अपनी बुद्धिमता, नैतिकता, ईमानदारी, सत्यनिष्ठा का उपयोग कर एक अच्छी लेखन शैली के साथ आप इस पेपर में अच्छे अंक हासिल कर सकते हैं।

नोट – इस पेपर को बहुत ही गंभीरता से लें कभी भी इस पेपर को हल्के में ना लें।

Ethics Paper के लिए उपलब्ध Books आपके लिए नीचे दी गई हैं –

1.      Ethics, Integrity and Aptitude for Civil Services Mains. ( Ethics – GS4) Buy Now
2.      IAS Mains General Studies – Ethics. ( Arihant Manual – GS4)  – BuyNow
अगर आप Ethics in Hindi, How to Prepare Ethics for UPSC, how to Prepare Ethics for IAS, Ethics in Hindi से संबधित कोई सवाल है तो आप Comments करके हमें बताएं।
Please Share on Social Media
3 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!